author

KMP Expressway: Highlights in Hindi... केएमपी एक्सप्रेसवे की खास बातें।

  • इस एक्सप्रेस वे को बनाने का मकसद मूल रूप से यह है कि हरियाणा को बाकी राज्यों के साथ एक हाई स्पीड नेटवर्क के जरिए जोड़ा जाए।
  • इस पूरे प्रोजेक्ट को 2846 एकड़ में बनाया गया है। इस पर करीब 2788 करोड़ रुपए खर्च हुए।
  • यह एनएच 1, एनएच 10 और एनएच 2 के दायरे में आने वाले कई शहरों को अलग-अलग स्थानों पर जोड़ेगा।
  • कुल मिलाकर देखें तो केएमपी एक्सप्रेस वे 135.6 किलोमीटर लंबा है।
  • इसे बिल्ड ऑपरेट एंड ट्रांसफर यानी BOT प्रोजेक्ट के तहत तैयार किया गया है।
  • यह हरियाणा के पांच जिलों से कनेक्ट होगा। ये हैं सोनीपत, गुरुग्राम या गुड़गांव, पलवल, मेवात और झज्जर।
  • इसमें मेटल बैरियर्स और चेन लिंक फेंस भी लगाई गई है।
  • हल्के वाहनों के लिए निर्धारित गति सीमा 120 किलोमीटर प्रति घंटा (speed limit is 120 kmph) और हैवी कमर्शियल वाहनों के लिए 100 किलोमीटर प्रति घंटा होगी।
  • केएमपी पर कुल 117 अंडरपास बनाए हैं। केएमपी पर 7 टोल प्लॉजा बनाए है।
  • एचएसअाईआईडीसी की तरफ से जो टोल टैक्स की रेट लिस्ट जारी की गई।
  • उसमें कार, जीप व वैन चालक को 1 रुपए 35 पैसे प्रति कि.मी., लाइट कर्मिशियल वाहन को 2 रुपए 18 पैसे प्रति कि.मी., ट्रक व बस को 4 रुपए 57 पैसे प्रति कि.मी.के हिसाब से टोल टैक्स की अदायगी करनी होगी।
  • केएमपी का हेल्प लाइन 1033 है।

Don't forget to share this pointer!

View more comments +